सर्दियों का मज़ा इस प्रकार उठा सकते हैं मधुमेह के रोगी

490
Loading...

मधुमेह की बिमारी आजकल आम हो गयी हैं यह बिमारी खतरनाक होती हैं, ये बिमारी खतरनाक होती हैं डायबिटीज़ के मरीजों में आँखों, गुर्दों, स्नायु, मस्तिष्क, हृदय के क्षतिग्रस्त होने से इनके गंभीर, जटिल, घातक रोग का खतरा बढ़ जाता हैं.

सर्दियों के आते ही मधुमेह से पीड़ित लोगो को अपना ख़ास ध्यान रखना पड़ता हैं, क्योंकि सर्दियों में कई तरह के पकवान बनाये जाते हैं, इसी मौसम में लोग खुद को गर्म रखने के लिए तिल के लाड्डो को खाते हैं लेकिन मधुमेह के रोगियों के लिए यह सब खाने का सेवन करना किसी खतरे से कम नहीं होता हैं, क्योंकी मधुमेह को कंट्रोल करने के लिए मरीज़ों को बहुत ज़्यादा अपने खान-पान पर ध्यान देना होता हैं. जिसके कारण उन्हें सर्दियों में अपना ख़ास ध्यान रखना ज़रूरी होता हैं.

यहाँ हम आपको बताएँगे की किस प्रकार मधुमेह के रोगी सर्दियों में भी अपना ख्याल रख कर सर्दियों का लुत्फ़ उठा सकते हैं.

screenshot_15

सर्दियों में इस प्रकार रखे मधुमेह के रोगी अपनी सेहत का ख्याल:

करे वज़न नियंत्रित:

सर्दियों के मौसम में बाहर का तापमान ज़्यादा होने के कारण, हमारे शरीर को देह को गर्म रखने के लिए अधिक ऊर्जा खर्च करनी पड़ती हैं.

Advertisement
Loading...

जिससे सर्दियों में मेटाबोलिज्म अच्छा हो जाता हैं, इस प्रकार मधुमेह के रोगी सर्दियों में खाने एम् नियंत्रित कर के अपना वज़न को कण्ट्रोल में रख सकते हैं.

इस प्रकार करे अपने मीठा खाने का शौक पूरा:

मधुमेह के रोगियों को मेइतेह खाने का शौक ज़ायदा होता हैं, और सर्दियों में तो विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनते ही बनते है आप अपने मीठा खाने का शौक शुगर की जगह सुगरफ्री का इस्तेमाल कर के कर सकते हैं.

अगर आपको कोई मीठी चीज़ खानी हैं तो इसके लिए टोन्स मिल्क और सुगरफ्री का यूज़ कर के आप मीठे का स्वाद भी ले सकते हैं और अपनी सेहत का भी ख्याल रख सकते हैं.

व्यायाम ज़रूर करे:

सर्दी के मौसम में लोग काहिली के चक्कर में व्यायाम से कतराते हैं लेकिन मधुमेह के रोगीयो को खुद को स्वस्थ्य रखने के लिए व्यायाम करना ज़रूरी होता हैं इसके लिए आप चाहे तो घर पर बैठ कर ही रस्सी कूद कर, या उठक बैठक कर के या खाने के बाद घर पर टहल कर व्यायाम को पूरा कर सकते हैं.

इस प्रकार रखे अपने पैरो का ध्यान:

मधुमेह से ग्रस्त लोगों को सर्दियों में अपने पैरों का खास ध्यान रखना चाहिए। ऐसा इसलिए, क्योंकि सर्दियों में पैरों में रक्त का संचार कम हो जाता है, खासकर उन लोगों में जिनके पैरों में सुन्नपन, झनझनाहट या दर्द हो. ऐसे लोगों को अपना ख़ास ख्याल रखने की ज़रूरत होती हैं, आप सर्दियों में अपने पैरो का ध्यान इस प्रकार रख सकते हैं.

पैरो में मूज़े पहने लेकिन सूती मूज़े ज़्यादा फायदेमंद होने.

पैरों को हर रोज साफ करके कोई लोशन या तेल लगाएं.

डायबिटीज के मरीज़ों को पैरो को गर्म करने के लिए गर्म हीटर या गर्म पानी से सिकाई नहीं करनी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से डाइबिटीज के मरीजों में पैरों में गर्मी महसूस करने की क्षमता कम हो जाती है और पैर जलने का खतरा भी रहता है.

इन्फेक्शन से इस प्रकार बचे:

मधुमेह के रोगियों को इन्फेक्शन से बचने के लिए सर्दियों में खुद कू धक् कर रखना चाहिए ,ऐसा ना करने पर किसी भी तरह के संक्रमण जैसे खांसी, जुकाम व बुखार होने या फिर शुगर के बढऩे का खतरा बढ़ जाता है, जो आपके लिए खतरनाक हो सकता हैं इसके लिए आपको चाहिए की आप गर्म कपड़े पहनें और शरीर का तापमान गर्म बनाए रखें.

हाथो को धो कर ही खाना खाये, क्योंकि बहुत सारे इन्फेक्शन हाथो के गंदे होने के कारण भी हो जाते हैं.

डॉक्टर से चेकअप कराते रहे इस प्रकार आप सर्दियों में खाने के साथ अपने शुगर को कण्ट्रोल कर के मज़ा उठा सकते हैं, इस मौसम का.

here we are giving you some easy and effective tips for diabetic patient to enjoy this winter season as a normal person, care tips for winters.

web-title: tips for diabetic patient for winter season

keywords: diabetes, winter care, tips

Advertisement
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here