खर्राटों की समस्या से हैं परेशान यह उपाय दिलाएंगे आराम

1844
Loading...

खर्राटों की समस्या आम समस्या होती हैं यह ज़्यादातर लोगो को होती हैं, लेकिन जब आप दिन भर के थके हो और आप चैन की नींद लेने के लिए सोने गए हैं और कोई खर्राटे मार रहा हो तो आपकी नींद खराब हो जाती हैं.

जिसके कारण आपको बहुत ज़्यादा गुस्सा आजाता हैं, थोड़ी बहुत खर्राटे लेना आम बात हैं लेकिन अगर यह समस्या बहुत ज़्यादा बढ़ गयी हैं तो यह बिलकुल भी सामान्य बात नहीं हैं, यह एक प्रकार की बिमारी हैं जिसमे सोते में साँसे रुक जाती हैं जिसके बाद व्यक्ति खर्राटे लेने लगता हैं, जिसे स्लीप एप्निया कहते हैं.

खर्राटे आने के कारण:

खर्राटे इन कारणों से आते हैं.

जब व्यक्ति बेहद थका हुआ होता हैं, तब मसल्स ढीली हो जाती हैं जिसके कारण व्यक्ति को खर्राटे आने लगते हैं.

जमकर सोने के कारण भी यह समस्या हो जाती हैं.

प्रयाप्त नींद ना लेने के कारण भी खर्राटे आने लगते हैं.

Advertisement
Loading...

अगर परिवार में किसी व्यक्त को यह समस्या हैं तो बच्चो में भी यह बिमारी हो जाती हैं.

इस बिमारी के दुष्प्रभाव:

इस बिमारी से व्यक्ति को टॉन्सिल्स, जबड़े की हड्डी का बढ़ना, साइनस की समस्या होना, आदि समस्याए हो जाती हैं.

खर्राटों का इलाज:

दालचीनी एक पाउडर:

एक ग्लास गुनगुने पानी में दालचीनी पाउडर का एक चम्मच मिलाकर खाने से यह समस्या खत्म हो जाती हैं इसके लिए आपको इसका सेवन सोने से पहले करना होगा.

शराब वा धूम्रपान से रहे दूर:

नींद की गोलियां जिनमे एल्कोहल होता है उसका सेवन करने से तनाव बढने का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है, इसके साथ ही आपके जबड़े की मांसपेशिया कड़ी हो जाती है जिससे खर्राटे की समस्या शुरू हो जाती है, सिगरेट का धुंआ हमारे फेफड़ो में जाता हैं जिसके कारण कैंसर जैसी घातक बिमारी के साथ व्यक्ति को स्लीप एपनिया की बीमार भी हो जाती हैं जिसके कारण खर्राटे आने लगते हैं.

सिर ऊँचा करके सोये:

सिर ऊँचा करके सोने से खर्राटों की समस्या खत्म हो जाती हैं, सोते समय आप सिर के नीचे तकिया रख कर सोए और मन को शांत रख कर सोए जिससे हम खर्राटे के खतरे को कम कर सकते है और आराम की नींद ले सकते है अगर आप झूठ बोलते है तो खर्राटे आने का खतरा बढ जाता है.

वज़न कम:

अगर आपके शरीर का वज़न कम है तो सोने से विशेष रूप से गर्दन की मांसपेशियो पर दवाब की स्थिति बन जाती है, जिससे खर्राटे की समस्या हो जाती है आप इसका ध्यान रखे तो निश्चित रूप इस समस्या को विफल किया जा सकता हैं इसीलिए खर्राटों को कम करने के लिए अपना वज़न ज़रूर घटाए.

पिए दूध:

रात में एक कप दूध पीने से यह समस्या समाप्त हो जाती हैं, इसीलिए जब भी आप सोने जाए तो एक कप दूध पी लें इससे आपकी खर्राटों की समस्या खत्म हो जायेगी.

सोने का समय करे निर्धारित:

खर्राटे रोकने के लिए यह ज़रूरी हैं की आप अपने सोने का समय निर्धारित करे, सही समय पर सोने जाएं तथा इस समय को ना बदलें, क्योंकि इससे आपको काफी परेशानी होगी. रोज़ाना के समय का पालन करें। इससे आपको अवश्य लाभ मिलेगा.

snoring is a disease named as sleep apnea, symptoms of sleep apnea, causes, home remedies of snoring.

web-title: home remedies for snoring

keywords: snoring, sleep apnea, symptoms, causes, home, remedies

Advertisement
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here