सिर्फ फायदा ही नहीं नुक्सान भी पहुँचाती हैं ग्रीन टी

972
Loading...

ग्रीन टी के बारे में आपने यही सुना होगा की इसके बहुत फायदे होते हैं, इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट हमारे इम्यून सिस्टम को मज़बूत करते हैं, इसके अलावा यह हमारी त्वचा के लिए भी बहुत ज़्यादा फायदेमंद होता हैं, और इसके अलावा यह हमारा वज़न घटाने में भी मदद करती हैं, और यह हमारे मानसिक स्वस्थ्य के लिए भी बहुत अच्छी मानी जाती हैं.

खाने की चीज़ कोई भी हो अगर वो सही ढंग से ना खायी जाए तो वो फायदे की जगह नुक्सान भी करने लगती हैं, इसीलिए किसी भी चीज़ को खाने के लिए ज़रूरी हैं इसका सही नियम आपको पता हो, यहाँ जाने ग्रीन टी पीने के नुक्सान.

ग्रीन टी पीने के नुक्सान:

दिनभर में आप 2-3 कप से ज्यादा ग्रीन टी का सेवन न करें, क्योंकि इसके कई नुकसान भी हैं, आइए जानते हैं.

भूख ना लगाना:

अगर आप दिन भर में तीन कप से ज़्यादा ग्रीन टी पियेंगे तो आपको सेहत को लेकर कई तरह के नुक्सान हो सकते हैं, जैसे आपको भूख बिलकुल लगना बन्द हो जायेगी, भूख नही लगने की वजह से आप सही आहार नहीं ले पाते हैं.

जिससे आपके शरीर को जरूरी मात्रा में पोषक तत्व नहीं मिल पाते है और इस तरह से आपका शरीर कमजोर हो सकता है. और जब आप कमज़ोर हो जाएंगे तो आपको कोई भी काम करने में बहुत ज़्यादा तकलीफ होने लगेगी.

Advertisement
Loading...

green-tea

प्री मैच्योर डिलिवरी:

गर्भावस्था में या फिर बच्चे की डिलेवरी के बाद ग्रीन टी का अधिक मात्रा में सेवन करना फायदा पहुंचाने के बजाय काफी नुकसान पहुंचा सकता है, गर्भावस्था में इसका बहुत ज़्यादा सेवन करने से गर्भपात की समस्या भी हो सकती हैं.

ऐसे समय में इसका ज़्यादा सेवन करने से बचना चाहिए , और इसके अलावा प्री मैच्योर डिलिवरी भी होने का खतरा होता हैं, और जब इस प्रकार की डिलीवरी होती हैं तो होने वाले बच्चे पर इसका बुरा असर पड़ता हैं, ऐसे बच्चे कमज़ोर होते हैं.

आयरन की कमी:

ग्रीन टी के अधिक सेवन से आयरन की कमी हो जाती हैं, ग्रीन टी का अत्यधिक सेवन करने से आपके शरीर में लौह तत्व यानी आयरन की कमी हो सकती है, दरअसल ग्रीन टी में मौजूद टैनिन शरीर में आयरन की कमी का कारण भी बन सकता है. इसीलिए ऐसे लोगो में खून की कमी हो जाती हैं जो कई रोगों को दावत देती हैं.

पाचन समस्या :

बहुत ज़्यादा ग्रीन टी का सेवन पेट में समस्याओं का कारण बन जाता हैं, पाचन शक्ति कमज़ोर हो जाती हैं जिसके कारण कई प्रकार की बिमारियां होने की आशंका हो जाती नहीं.

पेट में पथरी होने का खतरा:

ग्रीन टी में पाया जाने वाला ऑक्जेलिक एसिड गुर्दे में पथरी बनने का कारण हो सकता है, इसमें पाए जाने वाले तत्वो के कारण भी गुर्दे में पथरी पड़ने का कारण बन जाती हैं जैसे इनमे पाए जाने वाले तत्व कैल्शियम, यूरिक एसिड, अमीनो एसिड और फास्फेट भी पाया जाता है जो ऑक्जेलिक एसिड के साथ मिलकर गुर्दे की पथरी के लिए जिम्मेदार होते हैं. जिसके कारण यह हमारे लिए बहुत तकलीफ खड़ी करता हैं.

अनिद्रा के शिकार:

ग्रीन टी के सेवन से होने वाले नुकसानों में से एक नुक्सान यह भी हैं, इसको बहुत ज़्यादा पीने वाले लोगो में अनिद्रा का शिकार हो सकता हैं, जो नींद ना आने के कारण लोगो की ज़िन्दगी अस्त व्यस्त हो जाती हैं.

उलटी दस्त होना:

क्योंकि इसके सेवन से पाचन क्रिया ध्वस्त हो जाती हैं, जिसके कारण लोग उलटी दस्त के शिकार हो जाते हैं, और फिर उनमे कमज़ोरी आ जाती हैं.

ग्रीन टी के सेवन से होने वाले नुक्सान:

बहुत ज़्यादा ग्रीन टी पीने से इसकी आदत हो जाती हैं, जिसके कारण इसके ना मिलने पर चिड़चिड़ापन होने लगता हैं.

गर्भावस्था में ग्रीन टी के अधिक सेवन से बच्चे का वज़न कम हो जाता हैं.

पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं जिसके कारण व्यक्ति कमज़ोर हो जाता हैं.

ग्रीन टी उन महिलाओ के लिए भी बहुत नुकसानदेह हैं जो ग्रीन टी पीती हैं.

green tea is healthy for us but at the same time it could me harmful also if you take more then 3 cup of green tea in a day

web-title: do not drink green tea more then 3 cup in a day

keywords: green tea, rule, how to drink, disadvantages of green tea

Advertisement
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here