तली भुनी ब्रेड और चिप्स देते हैं कैंसर को दावत

234
Loading...

ताली भुनी चीज़े हर किसी को खाना बहुत ज़्यादा पसंद होता हैं, फिर चाहे कोई बूढा हो या बच्चा ज्‍यादातर लोगों को आलू, चिप्स या ब्रेड को भूरा होने तक तलने या भूनने के बाद उसका कुरकुरा स्वाद बहुत पसंद आता है, लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि यह चीज़े आपके लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकती हैं अगर नहीं तो यहाँ हम आपको बताएंग की किस प्रकार यह ताली भुनी चीज़े खाने से आप दें रहे हैं कैंसर जैसी घातक बीमारी को दावत.

नए शोध में वैज्ञानिको के अनुसार जो लोग ब्रेड को या चिप्स को आलू को बहुत ज़्यादा ताल कर या बिलकुल ब्राउन के बाद खाते हैं तो आप कैंसर के शिकार हो सकते हैं.

क्या कहता हैं यह शोध:

वैज्ञानिकों का मन्ना है कि स्टार्च वाला खाना जब बहुत ज्यादा तापमान और ज्यादा देर तक सेंका, भुना, तला या ग्रिल किया जाता है तो उसमें एक्रिलामाइड नामक केमिकल पैदा होता है, एक्रिलामाइड कई तरह के खाने में मौजूद होता है और ये खाना बनाते समय स्वाभाविक रूप से पैदा होता है.

यह केमिकल उन भोजन में सबसे अधिक पाया जाता है जिनमें शर्करा अधिक होता है और जो 120 डिग्री सेल्सियस तक पकाए जाते हैं, जैसे चिप्स, ब्रेड, सुबह नाश्ते की दालें, बिस्किट, क्रैक्स, केक और कॉफी आदि.

 

जब हम टोस्ट को बहुत देर तक गर्म करते हैं तो उसमे यह केमिकल अपने आप उतपन्न होने लगता हैं और इसको जितना ज़्यादा गर्म किया जाता हैं यह केमिकल उतनी ही तेज़ी से और मात्रा में स्वाभाविक रूप से उतपन्न होता हैं.

Advertisement
Loading...

तली भुनी ब्रेड और चिप्स देते हैं कैंसर को दवात

इसी तरह जब हम ब्रेड को देर तक भूनते हैं तो, ब्रेड जब भूरा होने लगता है तो उसमें मौजूद शर्करा, एमीनो एसिड और पानी मिलकर रंग और एक्रिलामाइड बनाते हैं और इसी से सुगंध भी पैदा होती है. जो हर बार स्मेल करते होंगे जितनी भी बार आप इन खाद्या पदार्थो को भूनते या तलते हैं.

कितना खतरनाक हो सकता हैं यह:

फ़ूड स्टैंडर्स एजेंसी (एफएसए) के अनुसार खाना बनाने से जुड़े निर्देशों का सावधानीपूर्वक पालन करने और खाने को भूरा होने तक भुनने या पकाने से बचने कोशिश करना चाहिए, हालांकि कैंसर रिसर्च से जुड़ी प्रवक्ता का कहना है कि गहरे लाल भुने खानों से कैंसर होने की पुष्टि अभी इंसानों में नहीं हुई है अभी हुए जानवरों के साथ शोध के अनुसार यह केमिकल डीनए के लिए विषैला होता है और इससे कैंसर होता है.

लेकिन अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि इस तरह का भोजन इंसानों पर भी उतना ही खतरनाक है जितना जानवरों पर, लेकिन कैंसर शोध से जुड़े अध्ययनकर्ता मानते हैं कि इंसानों को भी सावधानी बरतने में कोई बुराई नहीं है. एक्रिलामाइड से कैंसर का खतरा होने के साथ साथ, तंत्रिका और प्रजनन तंत्र पर भी हानिकारक असर हो सकता है.

इसीलिए इस प्रकार से इन खाद्य पदार्थो को इतना ज़्यादा गर्म ना करने की सलाह दी जाती हैं जो की बहुत ज़्यादा खतरनाक भी हो सकती हैं.

Fried roasted bread and chips ca bring cancer to you says new study how read here.

web-title: fried roasted bread and chips so harmful for you

keywords: fried roasted, bread, chips, potato, cancer, new study

Advertisement
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here